Category: वूमेन पावर

0

नोए़डा पुलिस कमिश्नर की पत्नी बना रहीं पुलिस परिवार की महिलाओं के लिए रोजगार के मौके

संध्या: कोरोना काल में जब कारोबार ठहर सा गया। नौकरियों पर संकट आने लगा। ऐसे वक्त में भी गौतमबुद्ध नगर के पुलिस लाइंस में रहने वाली महिलाओं और लड़कियों के लिए रोजगार के नए...

1

कॉरपोरेट वर्ल्ड की नौकरी छोड़ी और 100 शहरों में बना दिए 2000 महिला उद्यमी

संध्या: उत्तर प्रदेश के शहर बरेली की एक लड़की ने पहले तो कॉरपोरेट की दुनिया में कामयाबी के झंडे गाड़े। तरक्की और कामयाबी के शिखर पर पहुंचकर नौकरी छोड़ दी। सफल उद्यमी बनकर दिखाया।...

0

‘पैडवूमेन’ बन मासिक धर्म पर महिलाओं को जागरुक कर रही IRS अफसर

आकाश सिंह: लॉकडाउन में महिलाओं के दर्द से रुबरु हुई एक महिला आईआरएस अफसर की जिंदगी पूरी तरह से बदल गई है। लॉकडाउन के पहले तक सिर्फ घर परिवार और दोस्तों तक सिमटी रहने...

0

बंगलों का सुख छोड़ गांव पहुंची अफसर की पत्नी, 5 साल में बदल दी तस्वीर

रुपांशु चौधरी: बड़े-बड़े बंगलों की सुख छोड़कर गांव की पगडंडियों में भटकना भला किसे अच्छा लगेगा। लेकिन जब जोश बदलाव का हो। जुनून लोगों की जिंदगी बदलने का हो। जज्बा जनता की सेवा का...

1

38 लाख की आबादी वाले सुल्तानपुर जिले को एक लड़की की चुनौती

रुपांशु चौधरी: उत्तर प्रदेश का एक जिला है सुल्तानपुर। 38 लाख से ज्यादा आबादी वाले इसी जिले में रहती हैं रोशनी तिवारी। बीएड कर चुकी हैं। दो बार जूनियर प्राइमरी सीटीईटी भी पास कर...

0

सैनिटरी वेस्ट के संक्रमण से बचाव के लिए “शी विंग्स” का “रेड डॉट कैंपेन”

लॉकडाउन में महिलाओं के लिए काम करने वाली संस्था शी विंग्स ने सफाईकर्मियों को संक्रमण से जागरुक करने की मुहिम शुरू की। ये मुहिम महिलाओं के सैनिटरी वेस्ट से बचाव के लिए शुरू की...

0

39 की उम्र में पर्वतारोहण शुरू करने वाली आईपीएस ने लांघ डाले कई पर्वत

अपर्णा कुमार दुनिया की सबसे ऊंची चोटी- द माउंट एवरेस्ट फतह करने वाली पहली महिला आईपीएस अधिकारी हैं। माउंट मनासु को फतह कर वह दुनिया की 8वीं सबसे चुनौतीपूर्ण ऊंची चोटी पर पहुंचने वाली...

0

जामा और रामगढ़ के घर-घर के सुख-दुख की भागीदार ‘दीदी’ डॉ. स्टेफी टेरेसा मुर्मु

दुमका जिले के जामा और रामगढ़ प्रखंड में सक्रिय रसिक बेसरा मेमोरियल ट्रस्ट की संचालिका डॉ. स्टेफी टेरेसा मुर्मु मदद का दूसरा नाम बन गई हैं। आसनसोल कुरुवा पंचायत के ग्राम दुधानी के लुखिराम...

1

झारखंड के जामा में क्यों गांव-गांव भटक रही आईएएस की पत्नी

मातृभूमि का कर्ज उतारने में जुटी किसान की बेटी। जामा इलाके में महिला महिला सशक्तीकरण की साक्षात हस्ताक्षर। अपने लोगों की मदद के सफर पर निकल पड़ी मां। झारखंड की कला संस्कृति की विरासत...

0

किसानों की दशा सुधारने के लिए किसान बन गई बेटी

संध्या: पिता सी पी शुक्ला सियासत में है। बस्ती की कप्तानगंज विधानसभा से 2017 में चुनाव लड़ रहे थे। बेटी सिंजू शुक्ला पति हेमेंद्र के साथ पिता के प्रचार के लिए आयी। बेटी ने...

Skip to toolbar