Tagged: नोबेल शांति पुरस्कार

0

गांवों की तरफ लौटते भूख से तड़पते प्रवासी मजदूरों की व्यथा

परिंदे और प्रवासी मजदूर कैलाश सत्यार्थी: नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित विश्व प्रसिद्ध बाल अधिकार कार्यकर्ता कैलाश सत्यार्थी लॉकडाउन से बेरोजगार हुए प्रवासी मजदूरों और उनके बच्चों को लेकर चिंतित हैं। उनकी मदद के...

0

फिर इन्द्र धनुष उगेगा, उसके रंगों से होली खेलेंगे

होली पर विशेष होली पर शांति की कामना करती नोबेल शांति पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी की कविता हर साल होली पर उगते थे इंद्र धनुष दिल खोल कर लुटाते थे रंग मैं उन्हीं रंगों...

Skip to toolbar